Romantic Love Status ~ All festivals wishes status Shayari, occasion status, best event status SMS messages, image pictures photos wallpaper downloads for WhatsApp and facebook, Gif Animated image pictures photos wallpaper downloads,26 January Republic Day, Desh bhakti Shayari.

Breaking

28 Jan 2018

Best Friendship Dosti Shayari and image picture photos

Best Friendship Status Shayari image Picture photos 

Friendship image picture 

उनको अपने हाल का हिसाब क्या देते सवाल सारे गलत थे जवाब क्या देते वो तीन लफ्जों की हिफाजत ना कर सके उनके हाथ में जिंदगी की पूरी किताब क्या देते !!

 सुहाना मौसम और हवा मे नमी होगी आंसुओ की बहती नदी होगी मिलना तो हम तब भी चाहेंगे आपसे जब आपके पास वक्त और हमारे पास सासों कि कमी होगी !!

 किसी ने अपना प्यार हम पे लुटाया था हंसते हुए कुछ पल हमारे साथ बिताया था हमारी आंखो में उनके लिए आंसू हैं तो क्या हुआ किसी के लिए जान देना भी तो उसी ने सिखाया था !!

 खुद को भुला दिया रिश्ते निभाते-निभाते खुद को खो दिया अपनों को पाते पाते लोग कहते हैं कि दर्द बहुत हैं मेरे सीने में मगर हम हैं कि थक गए मुस्कुराते- मुस्कुराते !!


 ना तंग करो इतना हम सताए हुए हैं मोहब्बत का गम दिल पे उठाए हुए हैं खिलौना समझ कर हम से ना खेलो हम भी उसी खुदा के बनाए हुए हैं !!

 रहते हैं साथ-साथ मैं और मेरी तन्हाई करते हैं राज की बात मैं और मेरी तन्हाई दिन तो गुजर ही जाता है लोगो की भीड़ में करते हैं बसर रात में मैं और मेरी तन्हाई !!

 तेरे जाने के बाद कोई सहारा भी तो नहीं तुझे कभी तन्हाई में पुकारा भी तो नहीं तुझे हम आज भी चाहते हैं बहुत मगर फिर भी तू हमारा तो नहीं !!

 तेरे जाने के बाद कोई सहारा भी तो नहीं तुझे कभी तन्हाई में पुकारा भी तो नहीं तुझे हम आज भी चाहते हैं बहुत मगर फिर भी तू हमारा तो नहीं !!

 मेरी चाहत ने उसे खुशी दे दी बदले में उसने मुझे सिर्फ खामोशी दे दी खुदा से दुआ मांगी मरने की लेकिन उसने भी तड़पने के लिए जिन्दगी दे दी !!

 जरूरी तो नहीं जीने के लिए सहारा हो जरूरी तो नहीं जिसे हम चाहे वो हमारा हो कुछ कश्तियां डुब भी जाया करती है जरूरी तो नहीं हर कश्ती का किनारा हो !!

 कलम से दिल की आवाज लिखता हूं गम-ए-जुदाई के अंदाजे बयां लिखता हूं रूकते नहीं आंखो से आंसू जब भी उसके याद में अलफाज लिखता हूं !!


 हर जख्म किसी ठोकर की मेहरबानी है मेरी जिंदगी बस एक कहानी है मिटा देते सनम के दर्द को इस सीने से पर ये दर्द ही उसकी आखरी निशानी है !!

 दिल तड़पता रहा और वो जाने लगे संग गुजरे हर लम्हें याद आने लगे खामोश नजरों से देखा जो उसने मुड़ कर यूं भीगी पलकों से हम भी मुस्कुराने लगे !!

 अंजान है अंजान ही रहने दो किसी की यादों में पल-पल मरने दो क्यों बदनाम करते हो हमारा नाम ले कर अब तो इस नाम को बेनाम ही रहने दो !!

 आज कल दुनिया में भला मुस्कराता कौन है जि़ंदगी की इस दौड़ में हंसता हंसाता कौन है तारों को ताकते गुज़र जाती हो रात जिनकी उनको क्या पता कि ख्वाबों में आता कौन है !!

 उजड़ी हुई दुनिया को तू आबाद न कर बीते हुए लम्हों को तू याद न कर एक कैद परिंदे ने ये कहा हमसे मैं भुल चुका हूं उड़ना मुझे आजाद न कर !!

 दिल लगाना छोड़ दिया हमने आंसू बहाना छोड़ दिया हमने बहुत खा चुके धोखा प्यार में मुस्कुराना इसलिए छोड़ दिया हमने !!

 सूख गए फूल पर बहार वही है दूर रहते है पर प्यार वही है जानते है हम मिल नहीं पा रहे है आपसे मगर इन आंखो में मोहब्बत का इंतजार वही है !!

 कोई खामोश है इतना बहाने भूल आया हूं किसी की इक तरनुम में तराने भूल आया हूं मेरी अब राह मत तकना कभी ए आसमां वालो मैं इक चिड़िया की आँखों में उड़ाने भूल आया हूं !!

 ये मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा मैं खुद तन्हा रहा पर दिल को तन्हा नहीं रखा तुम्हारी चाहतों के फूल तो महफूज रखे हैं तुम्हारी नफरतों की पीड़ को जिंदा नहीं रखा !!

 दर्द गूंज रहा दिल में शहनाई की तरह जिस्म से मौत की ये सगाई तो नहीं अब अंधेरा मिटेगा कैसे तुम बोलो तूने मेरे घर में शम्मा जलाई तो नहीं !!

 मेरी आंखों के आंसू कह रहे मुझसे अब दर्द इतना है कि सहा नहीं जाता न रोक पलको से खुल कर छलकने दे अब यूं इन आंखों में रहा नहीं जाता !!

 मौत का फरमान आया है उनसे अलविदा कहने की ख्वाहिश है वो मुझे मिलेंगे या नहीं ये मेरी किस्मत की आजमाईश है !!

 भूल कर भी दिल से दिल्लगी ना कीजिये अगर टूट गया है तो जाम लिया कीजिये अगर उससे भी नहीं मानता है तो मैं क्या कहू अब जान दिया कीजिये !!

 कभी कभी तेरा मयखान याद आये बहोत की इक बूंद ना पी पर लडखडाये बहोत किताब-ए-दिल के जो पाने फेंक आये थे तेरे दिए हुए कुछ फुलयाद आये बहोत !!

 बन गई फिर तेरीफिर मेरी ना रही हो गई कुरबानफिर मेरी जिन्दगी ना रही जब तू आई महेफिल में तो देखा मैने फिर इसके बाद चिरागों में रौशनी ना रही !!

Dosti Shayari for boy and girl in Hindi, Latest friendship Shayari in Hindi. 

Romantic dosti image picture photos 

दोस्ती वो नहीं जो जान देती है,
दोस्ती वो भी नहीं जो मुस्कान देती है,
अरे सच्ची दोस्ती तो वो है..
जो पानी में गिरा हुआ आंसू भी पहचान लेती है|

हमारे तो दामन में काँटों के सिवा कुछ नही है
आप तो फूलो के खरीददार नजर आते है
जहान में कितने दोस्त मिले हमे
पर  सबसे  अच्छे आप नजर आते है !!!

हमारी दोस्ती का नजारा कुछ  ऐसा है
क्या कहे के ए अंदाझ कैसे है
लोग केहते हें के तुम चाँद के टुकड़े  हो
में केहता हु  के चाँद  तुम्हारा टुकड़ा  है !!!

वफा की कसम  हम  बेवाफा ना होंगे,
मर जायेंगे  पर आपसे जुदा ना होंगे,
हम  भी बनाएंगे  अपनी दोस्ती का महल
शर्म से झुक जाएेगा वो ताज महल !!!

 खुदा  से करणे एक फार्याद बाकी है,
हमें  उनसे कहनी कुछ बात बाकी है,
मौत  आयेगी तो काहेंगे,
रूक मेरी दोस्त से अभी मुलाकात  बाकी है !!!


अगर इतनी प्यारी सोच आपकी ना होती,
मुलाकात  आपसे हमारी  ना होती,
तड़पते  रहते ऐसे दोस्त के लिए,
अगर  यारी आपसे हमारी  ना होती.....

सच्ची है मेरी दोस्ती आज़माके देख लो
करके यकीन मुझपे मेरे पास आके देख लो
बदलता नही कभी सोना अपना रंग़
जितनी बार दिल करे आग लगा कर देख लो....... !!!

कुछ लोग यादो को दिल की तस्वीर बनाते है, दोस्तो की यादों में महफ़िल सजाते है, हम थोड़े अलग है, जो किसीकि याद आने से पहले उनको अपनी याद दिलाते है 

दोस्ती इम्तिहान नही विश्वास मांगती है, नज़र और कुछ नही दोस्त का दीदार मांगती है, ज़िंदगी अपने लिए कुछ नही पर आपके लिए, दुआ हज़ार मांगती है 

बहुत खूबसूरत है यह साथ तुम्हारा, बना दीजिए इससे किस्मत हमारी, उसे और क्या चाहिए दुनिया मे, मिल गयी हो जिसे दोस्ती तुम्हारी.... 

दोस्ती नज़रों से हो तो उससे कुद्रत कहते है, सितारों से हो तो जन्नत कहते है, आँखों से हो तो मोहब्बत कहते है, और दोस्ती आप से हो तो किस्मत कहते है !

अच्छा दोस्त एक फूल की तरह होता हे जिसे हम छोड़ भी नही सकते ओर तोड़ भी नही सकते , तोड़ दिया तो मुरझा जाए गा और छोड़ दिया तो कोई और ले जाए गा .. !

हकीकत मोहब्बत की जुदाई होती है कभी कभी प्यार में बेवफाई होती है , हमारे तरफ हात बढ़ाके कर तो देखो पता चलेगा के दोस्ती में कितनी सच्चाई होती है। 


यूँ तो महफिलें कभी उदास नही होती दोस्ती की मंज़िल पास नही होती पर होता है ज़िंदगी में कभी-कभी ऐसा भी मिल जाते हैं वो जिन की आस नही होती !

दोस्ती किसी की रियासत नही होती, ज़िंदगी किसी की अमानत नही होती, हमारी सलतनत मैं देख कर क़दम रखना, क्योकि हमारी दोस्ती की क़ैद मैं ज़मानत नहीं होती !

दिल को दिल से चुराया तुमने, दूर होते हुए भी अपना बनाया तुमने, कभी भूल नही पाएँगे तुमको ए दोस्त, क्योंकि दोस्ती करना सिखाया तुमने. .. !

इश्क़ और दोस्ती मेरी ज़िंदगी का उंवान है इश्क़ मेरी रूह और दोस्ती मेरा ईमान है इश्क़ पे करदो फिदा मे अपनी सारी ज़िंदगी मगर दोस्ती पर मेरा इश्क़ भी क़ुरबान है !

वो दोस्तों की महफ़िल, वो मुस्कराते पल, दिल से जुदा नही अपना बीता हुआ कल, कभी ज़िंदगी गुज़रती थी वक़्त बिताने में, आज वक़्त गुज़रता है ज़िंदगी बिताने में .. !

वक़्त और खुशी तेरे गुलाम होंगे, हर पल और पहलू तेरे ही नाम होंगे, ज़रा मूड कर देखना मेरे दोस्त, तेरे हर कदम के नीचे मेरे हाथो के निशान होंगे . !

दिलों को खरीदने वाले हज़ार मिल जाएँगे, तुमको दागा देने वाले बार-बार मिल जाएँगे. मिलेगा ना तुमको हम जैसा कोई, मिलने को तो दोस्त बेशुमार मिल जाएँगे.. !

दिलों को खरीदने वाले हज़ार मिल जाएँगे, तुमको दागा देने वाले बार-बार मिल जाएँगे. मिलेगा ना तुमको हम जैसा कोई, मिलने को तो दोस्त बेशुमार मिल जाएँगे.. !

हमने कभी दोस्ती को जाना ना होता, अगर हमारी ज़िंदगी मे आपका आना ना होता, यूही गुज़र देते ज़िंदगी को अगर आपको अपना प्यारा दोस्त माना ना होता. !


मुश्किल वक़्त मे जीना नही चाहते, दूर आपसे होकर अब रहेना नही चाहते, यू तो दोस्त हज़ारो हे इस दुनिया मे पर, आप जैसे दोस्त को खोना नही नही चाहते. !

आज का हर एक पल खूबसूरत हे, मेरे दिल में सिर्फ तुम्हारी सूरत हे, कुछ भी कहे दुनियावाले कोई गम नहीं हे, दुनिया से ज्यादा आज तेरी दोस्ती कि ज़रूरत हे. !

दोस्ती कि वजा नही होती, दोस्ती कि सज़ा नही होती, यारी में होती हे इमान्दारी, यारी में दुनियदारी नही होती, यार जान से प्यारा होता हे, यार से जान प्यारी नही होती. !

ज़िन्दगी में मोहब्बत कि जुदाई होती हे, कभी कभी प्यार में बेवफाई होती हे. हमारी तरफ हाथ बढ़ा कर तो देखो, दोस्ती में कितनी सच्चाई होती हे. !

सब लोग मंज़िल को मुश्किल मानते हे, हम तो मुश्किल को मंज़िल मानते हे, बहोत बड़ा फ़र्क हे सब मे और हम मे, सब ज़िंदगी को दोस्त और हम दोस्त को ज़िंदगी मानते हे. !


दोस्ती एक मिसाल हे जहा कोई सरहद नही होती, ये वो शहेर हे जहा इमारते नही होती, यहा तो सब रास्ते एक दूसरे के दिल से निकलते हे, ये वो अदालत हे जहा कोई शिकायत नही होती. 

No comments:

Post a Comment